हमेशा की तरह बिना किसी ठोस सोर्स के एक बार फिर भारतीय मीडिया ने दावा किया कि भारत के सबसे वांछित अंडरवर्ल्‍ड डॉन और मुंबई सीरियल बम धमाकों में आरोपी दाऊद इब्राहिम की हालत बेहद चिंताजनक है और पाकिस्तान के कराची में स्थित एक अस्‍पताल में उसका इलाज हो रहा है। कई मीडिया रिपोर्ट में तो उसकी मौत की भी खबर चला दी गई।

इन खबरों की शुरुआत शुक्रवार(28 अप्रैल) देर रात को शुरू हुई और शनिवार(29 अप्रैल) को सुबह होते-होते भारतीय मीडिया में आग की तरह फैल गई। दरअसल, रिपोर्ट में दावा किया गया था कि दाऊद को दिल का दौरा पड़ा है, जिसके बाद उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

लेकिन शनिवार को दाऊद के विश्‍वस्‍त करीबी छोटा शकील ने उसकी खराब सेहत को लेकर भारतीय मीडिया में आई खबरों को झूठा बताया है। शनिवार को एक अखबार से बात करते हुए छोटा शकील ने कहा कि दाऊद के बीमार होने संबंधी खबर में कोई सच्‍चाई नहीं है। यह सब अफवाह है।

इस खबर के बाद सोशल मीडिया पर लोग भारतीय मीडिया पर तंज कसने लगे। इस अफवाह पर पत्रकार रोहित सरदाना ने ट्वीट किया, ‘जिस हिंदुस्तान के पास दाऊद इब्राहीम की सबसे ताज़ा तस्वीर भी 20 साल पुरानी है, वहां मीडिया उसके मरने के सिर्फ़ क़यास ही लगा सकता है!

मीडिया के अलावा लोगों ने सरकार पर भी खूब व्यंग्य सके। साहिल ने सरकार और मीडिया दोनों पर व्यंग्य कसते हुए लिखा कि, ‘बीजेपी सरकार दाऊद को ना ला सकी कोई नहीं, लेकिन उसका एक फोटो लाकर मीडिया को दे देते, बेचारे 20 साल से एक ही फोटो को घसीट रहे हैं।’

गौरतलब है कि वर्ष 1993 के मुंबई सीरियल बम धमाकों में दाऊद मुख्य आरोपी है। उन धमाकों में 257 लोगों की मौत हो गई थी और 700 से अधिक लोग घायल हुए थे। ऐसा कहा जाता है कि दाऊद अपने पाकिस्तान में रहता है। हालांकि, पाकिस्तान इस बात को अक्सर खारिज करता रहता है कि दाऊद उसके यहां छिपा बैठा है।