योग गुरु बाबा रामदेव ने बुधवार को कहा की तीन तलाक को सही साबित करने के लिए जो लोग कुरान शरीफ का हवाला दे रहे हैं वे दरअसल इस्लाम और कुरान का अपमान कर रहे हैं।

रामदेव ने लखनऊ में तीन दिवसीय योग महोत्सव के पहले दिन कहा कि किसी भी महिला के साथ नाइंसाफी नहीं होनी चाहिए, चाहे वह किसी भी मजहब की हो। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, उन्होंने कहा कि जिसे भी न्यायपालिका पर भरोसा है वह कभी तीन तलाक की हिमायत नहीं कर सकता।

योग गुरु ने कहा कि तीन तलाक को सही साबित करने के लिए जो लोग कुरान शरीफ का हवाला दे रहे हैं। वे दरअसल इस्लाम और कुरआन का अपमान कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि योगी आदित्यनाथ की अगुवाई में उत्तर प्रदेश तरक्की के रास्ते पर आगे बढ़ेगा।